110 की रफ्तार में नंदी ने लगाया दौड़, भोले बाबा की सवारी ने लिया रेस में भाग

Nandi ran at the speed of 110

आपको बता दें कि भोलेनाथ को सभी लोग प्यार से देवों के देव महादेव कहते हैं, इनके अनेकों नाम है, जिसे हम अलग-अलग नाम से पुकारते हैं। इन्हें भोलेनाथ रूद्र,महेश,शंकर,गंगाधर, नीलकंठ,शिव इत्यादि नामों से जाना जाता है। शिव जी का निवास स्थान कैलाश पर्वत माना जाता है। जहां पर शिव जी माता पार्वती के साथ अपनी पूरी जिंदगी गुजारते हैं,माता पार्वती शिव जी की धर्मपत्नी तथा अर्धांगिनी है।शिव जी का अस्त्र त्रिशूल धनुष डमरु पशुपतास्त्र और परसु है, आपको बता दें कि शिव जी की सवारी नंदी को कहा जाता है, आज आप इस वीडियो में बेहद अद्भुत नजारा देखने के लिए मिलेगा इस वीडियो में भगवान शिव ने अपनी सवारी नंदी को रोड पर यात्रा करने के लिए लेकर जाते हुए नजर आ रहे हैं।

नंदी जी ने की रोड पर यात्रा

आप सभी जानते हैं,कि जब सावन आता है, तो हर कोई शिव जी के भक्ति में लीन हो जाता है, माना जाता है, कि सावन महीना शिव जी के भक्ति का महीना होता है जो भी शिव के भक्त होते हैं वह सावन में कावड़ यात्रा के लिए निकल पड़ते हैं, आपने देखा होगा कि लोग कंधे पर कावड रखकर शिवजी के मंदिर में पूजा करने के लिए निकलते हैं, और काफी कठिन मेहनत के बाद शिव जी का दर्शन प्राप्त होता है, आज की इस वीडियो में भगवान शिव नंदी पर बैठे हुए नजर आ रहे हैं और रोड पर यात्रा कर रहे हैं।

इस वीडियो में आप देख सकते हैं कि एक युवक है जो बिल्कुल शिवजी की तरह पोशाक पहना हुआ है और बिल्कुल शिवजी की तरह नजर आ रहा है साथ ही साथ अपने बाइक को गाय का पोशाक बनाकर बाइक चला रहा है देखने में ऐसा लग रहा है कि जैसे स्वयं नंदी जी शिव जीत को लेकर यात्रा पर निकले हुए हैं बाइक के पीछे भारत का झंडा भी है तो तेजी से लड़ रहा है आगे त्रिशूल और डमरु भी नजर आ रहे हैं यह नजारा काफी अद्भुत देखने में लग रहा है, लेकिन बेहद ही खूबसूरत नजर आ रहा है।रोड पर आते जाते लोग कई बार पलटकर शिवजी की तरफ जरूर देख रहे हैं।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि यह वीडियो सोशल मीडिया के यूट्यूब चैनल के शार्ट वीडियो पर अपलोड किया गया है, यह वीडियो पर मिलियन व्यू आ चुके हैं, जबकि 10 लाख से ज्यादा लाइक आ चुके हैं। लोगों ने तरह तरह के कमेंट भी किए हैं, और इस कमेंट में “हर हर महादेव” “ओम नमः शिवाय”का नारा लगा रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back To Top