एक तलाक ऐसा भी…. पति ने कहा बीवी नहाती नहीं आती है बदबू मुझे तलाक दिला दीजिए मैडम जी

fhjjjjx

कुछ दिनों पहले देश में तीन तलाक का मुद्दा सबसे बड़ा मुद्दा था। जिसे मोदी जी और उनकी सरकार ने मिलकर समाप्त कर दिया। देखा जाए तो यह तीन तलाक का कानून बहुत ज्यादा बेकार था और ऐसा ही एक मामला सामने निकल कर आ रहा है। आए दिन हमें कोई न कोई तलाक की कहानी सुनने को मिल ही जाती है। वह सब तलाक मामले आपको निश्चित ही हैरान नहीं करते होंगे, लेकिन अलीगढ़ से एक तलाक की कहानी निकल कर आ रही हैं जो यकीनन आपको हैरान कर देगी।

अलीगढ़ में रहने वाला एक शख्स अपनी पत्नी से इसलिए तलाक ले रहा है क्योंकि उस व्यक्ति का कहना है कि उसकी पत्नी रोजाना नहाती नहीं है और उसके शरीर से इतनी ज्यादा बदबू आती है कि उसके पास 1 मिनट खड़ा रहना भी असंभव है। व्यक्ति लोगों से मदद की गुहार लगाता है और कहता है कि मैं इस महिला के साथ नहीं रह सकता मुझे तलाक दिला दीजिए।

यह मामला अलीगढ़ के चंदौस इलाके का है। यह मामला अब वूमेन प्रोटेक्शन सेल पहुंच गया है। यहां पर इन दोनों को समझाया जा रहा है कि इनकी शादी बच जाए। सूत्रों से पता चला है चंदौस के इन व्यक्ति की शादी क्वासी की महिला से हुई। बताया जा रहा है कि शादी के कुछ महीनों तक यह दोनों खुशी-खुशी साथ में रहते थे, लेकिन धीरे-धीरे इन दोनों की आदतें एक दूसरे से मेल नहीं खाती थी। इनमें अक्सर ही लड़ाई हो जाया करती थी। इन दोनों का एक लड़का भी हुआ लेकिन बच्चा होने के बावजूद इन दोनों में लड़ाई झगड़ा होता ही रहता था।

जब यह मामला पुलिस के पास गया और इसे विमेन प्रोटक्शन सेल में इस मामले की काउंसलिंग की गई तो पति ने तलाक का सबसे बड़ा कारण उनकी पत्नी का प्रतिदिन स्नान नहीं करना बताया, जोकि सभी को हैरान कर देने वाला था उनका कहना है कि मैं अपनी पत्नी से तंग आ गया हूं। वह रोज नहाती नहीं है और उसके शरीर से बहुत बदबू आती है।

उस शख्स ने वहां उपस्थित मैडम से गुहार लगाए कि कृपया करके मेरा तलाक करवा दीजिए और पत्नी से पूछे जाने पर उसने बताया कि यह सब झूठे आरोप लगाए जा रहे हैं। चांसलर ने उन्हें काफी समझाया बुझाया और उनसे कहा कि शादी के बाद लड़ाई झगड़े होते रहते हैं। आप दोनों साथ में ही रहिए और तलाक मत लीजिए।
ऐसे मामले 2 साल पहले भी सामने आ चुके हैं जो सभी को हैरान कर देने वाले और बिल्कुल विचित्र हैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back To Top