वीडियो में तापडतोड़ थप्पड़ खा रहे व्यक्ति का फैक्ट चेक…

mmmmm

सोशल मीडिया एक ऐसा प्लेटफार्म बन चुका है एक ऐसी जगह बन गयी है जहां कुछ भी वायरल होता रहता है और किसी भी हद तक चला जाता है हालांकि एक ही वीडियो को लोग अपने हिसाब से कैप्शन लिख के शेयर करते रहते हैं ऐसा ही एक मामला सामने आया है आइये जानते हैं विस्तार से.

गॉंव में एक मुखिया जी के साथ कुछ लोग खड़े हैं माला पहने मुखिया जी बातें कर रहे होते हैं रिपोर्टर से उसी दौरान रिपोटर मुखिया जी से पूछ लेता है कि आपने मास्क क्यों नहीं लगाया है तो मुखिया जी कहते हैं कि इसलिए क्योंकि कोई कोरोना नहीं है बस फिर क्या था रिपोटर एक बहाने से मुखिया जी को किनारे लेके जाता हैं और कई थप्पड़ देता है उसके बाद हैवी फोटोशूट खत्म हुआ कहके वापस आता है.

वीडियो में रिपोर्टर की भूमिका निभा रहे शख्स ने अपना नाम धर्मेंद्र धाकड़ बताया है. धर्मेंद्र कहते हैं कि ये समय पंचायत चुनाव का चल रहा है. चुनाव में खड़े प्रत्याशी अपने मतदाताओं को लुभाने में लगे हैं. इसी वीडियो में आगे धर्मेंद्र फूलों का हार पहने एक मुखिया पद के प्रत्याशी के पास जाते हैं और उनसे बातचीत करते हैं. बातचीत के दौरान धर्मेंद्र प्रत्याशी से मास्क न पहनने पर सवाल करते हैं. जवाब में प्रत्याशी कहता है, “कोरोना है ही नहीं न ही मरीज निकल रहे हैं इसलिए मास्क नहीं पहना है”. इसी बात पर धर्मेंद्र फोटो खींचने के बहाने मुखिया प्रत्याशी को एक घर के पीछे लेकर जाते हैं और ताबड़तोड़ थप्पड़ जड़ना शुरू कर देते हैं. थप्पड़ मारते हुए धर्मेंद्र कोरोना में मास्क पहने की हिदायत भी देते हैं. इस समय सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल भी हो रहा है ये वीडियो.

एक न्यूज चैनल से बातचीत में धर्मेंद्र ने हमें बताया कि वीडियो में न तो कोई चुनाव प्रत्याशी है और न ही कोई पत्रकार है. धर्मेंद्र आगे कहते हैं कि वीडियो में दिख रहे लोग कलाकार हैं और ये वीडियो सिर्फ मनोरंजन के मकसद से बनाया गया है. धर्मेंद्र ने बताया कि वीडियो बिहार के डेहरी में फिल्माया गया है.

अपने यूट्यूब चैनल के बारे में बात करते हुए धर्मेंद्र ने कहा, “उनका असली नाम हर्ष राजपूत है. धर्मेंद्र उनका एक किरदार है जो फनी वीडियो के द्वारा लोगों का मनोरंजन करता है, इसलिए लोग उनको धर्मेंद्र धाकड़ के नाम से जानते हैं. हर्ष मूल रूप से बिहार के औरंगाबाद के रहने वाले हैं और वहीं से अपना यूट्यूब चैनल चलाते हैं.

इन सभी बातों को मद्देनजर रखते हुए हम इतना कह सकते हैं कि ये वीडियो न तो किसी प्रत्याशी का है और न ही इसका चुनाव से कोई लेना देना है ये वीडियो सिर्फ मनोरंजन के लिए बनाया गया था जैसा कि खुद हर्ष राजपूत ने क्लियर किया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back To Top