5 साल की बच्ची को सांप ने डसा, ऐसे बची जान

बच्‍चों को जानवरों के साथ फ्रेंडली बनाने, उन्‍हें भोजन खिलाने के लिए बनाए गए पेटिंग जू में गई। 5 साल की बच्ची का अनुभव इतना डरावना रहा कि अब यह बच्ची न केवल पेटिंग जू में जाने से पहले सोचेगी बल्कि अब वह किसी जानवर को

बच्‍चों को जानवरों के साथ फ्रेंडली बनाने, उन्‍हें भोजन खिलाने के लिए बनाए गए पेटिंग जू में गई। 5 साल की बच्ची का अनुभव इतना डरावना रहा कि अब यह बच्ची न केवल पेटिंग जू में जाने से पहले सोचेगी बल्कि अब वह किसी जानवर को भी पालने बचेगी।

सोशल मीडिया पर एक वीडियो छाया हुआ है जिसमें आप देख सकते हैं कि एक 5 साल की बच्ची पेटिंग जू में गई तो उस झूम के कर्मचारियों ने बच्ची के गर्दन पर एक सफेद रंग के सांप को रख दिया। तभी उस सांप ने बच्ची के चेहरे पर डंस लिया। रिपोर्ट की माने तो 5 साल की बच्ची अपनी मां के साथ बटरप्लाई पार्क पेटिंग जू गई। जहां एक जू कर्मचारी ने सफेद रंग के सांप को विक्टोरिया के गले में रख दिया।

विक्टोरिया थोड़ा घबरा जाती है कि तभी सांप मुंह पर डस लेता है वहां मौजूद स्टाफ उस बच्ची के गले से सांप निकालते हैं और तुरंत विक्टोरिया को हॉस्पिटल ले जाया गया। सांप का कम जहरीला होने के कारण बच्ची की जान बच गई।

जू कर्मचारियों ने कहा

जू कर्मचारियों ने कहा कि सांप कभी इस तरह किसी पर हमला नहीं करता। यह पहली बार है कि ऐसा कुछ किया है ,वही साथ विशेषज्ञ एकातेरिना यह बताया कि सांप करके ज्यादा संवेदनशील होते हैं और शायद बच्ची के मुंह को सूंघने की कोशिश में उसे डस लिया, क्योंकि बच्ची ने जू जाने से पहले चिकन खाया था। यदि सांप भूखा होगा और उसे अपने शिकार कु खुश हुआ आएगी तो ऐसी डंसने के लिए उकसा सकते हैं।
के अलावा ढेर सारे लोगों को छुए जाने के डर से या फिर पर्याप्त आराम न कर पाने कारण सांप तनाव में हो और ऐसे में वह किसी पर भी हमला कर सकता है।

आप भी अगर कभी जू जाए तो जानवरों से दूरी बनाकर और पूरी सतर्कता के साथ ही रहें

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back To Top