5 बच्चों के पिता अख़्तर शेख पर आरोप मुकेश गुप्ता बनकर, की हिंदू लड़की से शादी…

md

गुजरात के सूरत से एक मामला सामने आया है, जहां 50 वर्षीय मोहम्मद अख्तर शेख़ ने खुद को मुकेश गुप्ता बताकर किया हिंदू लड़की से विवाह, वही मुकेश के 5 बच्चे भी हैं। आपको बता दें कि अख्तर शेख़ ने कथित रूप से अपना नाम मुकेश बताया था और हिंदू धर्म की लड़की पूजा से शादी की थी। मुकेश की असलियत सामने आने पर लड़की ने पुलिस में शिकायत दर्ज करवा दी है।

आपको बता दें कि लड़की पूजा व मोहम्मद शेख़ दोनों ही सूरत के रहने वाले हैं। मोहम्मद शेख़ के पहले से 5 बच्चे भी हैं। 20 वर्षीय पूजा 2018 से सूरत के एक टेलीकॉम कंपनी के स्टोर में काम करती थी, जहां मुकेश अक्सर आया जाया करते थे। वही उन दोनों की मुलाकात होती रहती थी और उसने अपना परिचय हिंदू धर्म के अनुसार दिया था और कहा कि वह रेलवे में काम करता है और अभी तक शादी नहीं की है। धीरे-धीरे दोनों एक दूसरे को पसंद करने लगे और 2019 में दोनों ने सूरत के एक मंदिर में जाकर पूरे रीति रिवाज के साथ शादी कर ली। मुकेश और पूजा का एक बेटा भी है।

लेकिन अचानक 2021 की मई में पूजा को पता चला कि वह मुकेश गुप्ता नहीं बल्कि मोहम्मद अख्तर शेख़ है। वह पहले से ही शादीशुदा है व उसके 5 बच्चे भी हैं। इस खबर के मिलते ही पूजा ने तुरंत अख़्तर के ख़िलाफ़ सूरत के डिंडोली थाने में कानूनी कार्रवाई के लिए अर्जी लगा दी थी। अब 3 महीने बाद पुलिस ने इस मामले में एफ आई आर दर्ज की है। पूजा ने यह भी शिकायत की है कि मुकेश ने नौकरी लगवाने के नाम पर पूजा के घरवालों से 12 लाख रुपए भी लिए हैं। 5 बच्चों के पिता अख्तर शेख ने मुकेश गुप्ता बनकर मंदिर में की हिंदू लड़की से  शादी, केस दर्ज - Surat Love Jihad case Man hides identity marries Hindu  girl in temple

आपको बता दें कि गुजरात उन राज्यों में से है, जहां धर्मांतरण कानून लागू है। इस कानून के मुताबिक शादी के नाम पर जबरन या धोखे से धर्मांतरण कराने या धार्मिक पहचान के नाम पर धोखा देकर शादी करने पर 5 साल तक की जेल और 2 लाख रुपये तक के जुर्माने का प्रावधान है। वही अगर पीडिता नाबालिक, दलित या आदिवासी हो तो यह सजा 7 साल तक और जुर्माना 3 लाख रुपये तक हो जाता है और ऐसी शादियों को न्यायालय द्वारा रद्द कर दिया जाता है। गुजरात के अलावा उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश मैं भी धर्मांतरण कानून लागू है। मध्यप्रदेश देश का पहला ऐसा राज्य है जहां धर्मांतरण कानून लागू किया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back To Top