उत्तराखण्ड में फटा ग्लेसियर मचा धन और जान का हुआ नुकसान , उत्तर प्रदेश के गंगा किनारे बेस गांव में हाई अलर्ट

प्राकृतिक आपदा से जूझ रहा उत्तराखंड के चमोली में  फटा ग्लेसियर हुई भरी तबाही

chamoli

चमोली में ग्लेशियर टूटने से बड़ा हादसा हो गया. कई लोगों की जान चली गई. अभी भी 100 से अधिक लोग लापता हैं. रेस्क्यू ऑपरेशन रात में भी जारी है. इस बीच खबर. कि ग्लेशियर टूटने के बाद तपोवन के पास एक झील बन गई है. अब इस झील का जलस्तर लगातार बढ़ रहा है।

धौली गंगा का दिखा रौद्र रूप 

dhauliganga

विश्वसनीय और अकल्पनीय। चटख धूप में अचानक धौली गंगा का ऐसा रौद्र रुप कि चंद मिनटों में सब तबाह हो गया। ये कहना है कि उत्तराखंड के चमोली में सैनी में आई आपदा से डरे सहमे लोगों का। तपोवन और रैणी क्षेत्र के ग्रामीण अचानक आई आपदा से भौंचक्के रह गए।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गंगा नदी के जलस्तर को बढ़ते देख उत्तर प्रदेश के गंगा किनारे बसे गांव में हाई अलर्ट

yogi

उत्तराखंड के चमोली जिले के रैनी में ग्लेशियर फटने से आई बाढ़ को देखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश में गंगा नदी के किनारे पड़ने वाले सभी जिलों के जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षकों को पूरी तरह मुस्तैद रहने के निर्देश दिए हैं।

उन्होंने प्रदेश के संबंधित विभागों और अफसरों को अलर्ट पर रहने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि स्थिति पर पूरी तरह नजर रखें और मुस्तैद रहें। हालात को देखते हुए एसडीआरएफ को भी अलर्ट किया गया है।

मुख्यमंत्री योगी ने उत्तराखंड को हर प्रकार से सहयोग करने का भी निर्देश दिया है।

बता दें कि उत्तराखंड के चमोली जिले के रैनी में रविवार सुबह ग्लेशियर फट गया। बताया जा रहा है कि ग्लेशियर फटने से धौली नदी में बाढ़ आ गई है। इससे चमोली से हरिद्वार तक खतरा बढ़ गया है

सुरंग में फंसे मजदूरों के लिए ‘देवदूत’ बने जवान

army

उत्तराखंड में चमोली जिले के रैणी में आई आपदा के दौरान तपोवन सुरंग में काम कर रहे कुछ मजदूरों के फंसे होने की जानकारी मिली तो आईटीबीपी के जवान अपने जान पर खेलकर देवदूत बनकर उतरे। और  मजदूरों को सुरक्षित बहार निकाला हाला अभी तक इस आपदा में 7 शव बरामद हुए है ।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back To Top